Faheem Jogapuri's Photo'

फ़हीम जोगापुरी

मऊनाथ भंजन, भारत

ग़ज़ल 9

शेर 13

वाक़िफ़ कहाँ ज़माना हमारी उड़ान से

वो और थे जो हार गए आसमान से

  • शेयर कीजिए

कितने तूफ़ानों से हम उलझे तुझे मालूम क्या

पेड़ के दुख-दर्द का फूलों से अंदाज़ा कर

  • शेयर कीजिए

शाम ख़ामोश है पेड़ों पे उजाला कम है

लौट आए हैं सभी एक परिंदा कम है

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 6

Adhoori Baat

 

2009

Dhoop Chhao.n

 

2016

Nawed-e-Sahr

 

2001

Shumara Number-001

2017

Shumara Number-002

2017

Shumara Number-002

2018

 

चित्र शायरी 1

वाक़िफ़ कहाँ ज़माना हमारी उड़ान से वो और थे जो हार गए आसमान से

 

"मऊनाथ भंजन" के और शायर

  • फ़ज़ा इब्न-ए-फ़ैज़ी फ़ज़ा इब्न-ए-फ़ैज़ी
  • माहिर अब्दुल हई माहिर अब्दुल हई
  • निहाल जालिब निहाल जालिब