Tahseen Firaqi's Photo'

तहसीन फ़िराक़ी

1950 | लाहौर, पाकिस्तान

अरबी के प्रमुख स्कालर, और आलोचक

अरबी के प्रमुख स्कालर, और आलोचक

शेर 7

मुझ सा अंजान किसी मोड़ पे खो सकता है

हादसा कोई भी इस शहर में हो सकता है

मैं कहाँ और कहाँ शाएरी मैं ने तो फ़क़त

मज्लिस-ए-शेर बपा की तो तुम्हारे लिए की

बहार अब के जो गुज़री तो फिर आएगी

बिछड़ने वाले बिछड़ते समय ये कह गए हैं

फिर उस की याद ने दस्तक दिल-ए-हज़ीं पर दी

फिर आँसुओं में निहाँ उस के ख़द-ओ-ख़ाल हुए

सतह-ए-दरिया का ये सफ़्फ़ाक सुकूँ है धोका

ये तिरी नाव किसी वक़्त डुबो सकता है

ग़ज़ल 6

पुस्तकें 30

Abdul Majid Dariyabadi

 

1991

अब्दुल माजिद दरियाबादी

अहवाल-ओ-आसार

1993

Ajaibaat-e-Farang

 

1983

अरमुग़ान-ए-इल्मी

 

1998

Azad Sadi Maqalat

 

2010

इफ़ादात

शेरी मुतालिअात

2004

Iqbal : Chand Naye Mabahis

 

1997

इक़बाल: चन्द नए मुबाहिस

 

1997

Jehat-e-Iqbal

 

1993

Mutala-e-Bedil Fikr-e-Bargusan Ke Roshni Mein

 

1995

"लाहौर" के और लेखक

  • सआदत हसन मंटो सआदत हसन मंटो
  • इन्तिज़ार हुसैन इन्तिज़ार हुसैन
  • मोहम्मद यूनुस बट मोहम्मद यूनुस बट
  • हिजाब इम्तियाज़ अली हिजाब इम्तियाज़ अली
  • मोहम्मद हुसैन आज़ाद मोहम्मद हुसैन आज़ाद
  • राबिया अलरबा राबिया अलरबा
  • मोहम्मद जावेद अनवर मोहम्मद जावेद अनवर
  • तसनीम मिंटो तसनीम मिंटो
  • ज़फ़र अली ख़ाँ ज़फ़र अली ख़ाँ
  • नीलम अहमद बशीर नीलम अहमद बशीर