सियालकोट के शायर और अदीब

कुल: 53

उर्दू के प्रथम पंक्ति के कहानीकारों में शामिल, प्रेमचंद के समकालिक, प्रेम और ग्राम्य जीवन को विषय बनानेवाली कहानियों के लिए प्रसिद्ध

उर्दू के महत्वपूर्ण अफ़साना निगारों में शामिल, मंटो के समकालीन, भारतीय समाज और लोक कथाओं से सम्बंधित कहानियां बुनने के लिए मशहूर. नॉवेल, ड्रामेऔर फिल्मों के लिए संवाद व स्क्रिप्ट लिखे.

अग्रणी आधुनिक शायार और कहानिकार, भारत में आधुनिक उर्दू नज़्म के विकास में महत्वपूर्ण यागदान, पद्मश्री से सम्मानित।

सबसे प्रख्यात एवं प्रसिद्ध शायर. अपने क्रांतिकारी विचारों के कारण कई साल कारावास में रहे।

आधुनिक उर्दू शायरी के संस्थापकों में से एक।

ख्यातिप्राप्त कथाकार, प्रवास के अनुभवों की कहानियाँ लिखने के लिए जाने जाते हैं, अपनी लघुकथाओं के लिए भी प्रसिद्ध।

शायर, संपादक, आज़ादी के संघर्ष में हिस्सा लेने वाले एक सक्रिय राजनीतिक कार्यकर्ता

साठ के दशक में उभरने वाले अहम मज़ाहिया (हास्य) शायर

प्रसिद्ध शायर, रूमान और सामाजिक चेतना की नज़्में,ग़ज़लें और रुबाईयाँ कहीं

महान उर्दू शायर एवं पाकिस्तान के राष्ट्र-क़वि जिन्होंने 'सारे जहाँ से अच्छा हिन्दुस्तां हमारा ' के अतिरिक्त 'लब पे आती है दुआ बन के तमन्ना मेरी' जैसे गीत की रचना की

पाकिस्तानी सीरियलों के प्रसिद्ध