पानीपत के शायर और अदीब

कुल: 29

उर्दू आलोचना के संस्थापकों में शामिल/महत्वपूर्ण पूर्वाधुनिक शायर/मिजऱ्ा ग़ालिब की जीवनी ‘यादगार-ए-ग़ालिब लिखने के लिए प्रसिद्ध

देशप्रेम,महत्वपूर्ण व्यक्तियों, घटनाओं और त्योहारों पर लिखी गई अपनी नज़्मों के लिए प्रसिद्ध. ‘हिन्दुस्तानी सूरमा’ के नाम से एक ड्रामा भी लिखा

Jashn-e-Rekhta | 2-3-4 December 2022 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate, New Delhi

GET YOUR FREE PASS
बोलिए