Ambareen Haseeb ambar's Photo'

अंबरीन हसीब अंबर

1981 | कराची, पाकिस्तान

मुशायरों की लोकप्रिय पाकिस्तानी शायरा

मुशायरों की लोकप्रिय पाकिस्तानी शायरा

ग़ज़ल 22

नज़्म 6

शेर 26

फ़ैसला बिछड़ने का कर लिया है जब तुम ने

फिर मिरी तमन्ना क्या फिर मिरी इजाज़त क्यूँ

दुनिया तो हम से हाथ मिलाने को आई थी

हम ने ही ए'तिबार दोबारा नहीं किया

मुझ में अब मैं नहीं रही बाक़ी

मैं ने चाहा है इस क़दर तुम को

ई-पुस्तक 2

Asaleeb

Shumara Number-005

2011-2012

Asaleeb

Shumara Number-001

2010

 

संबंधित शायर

  • सिदरा सहर इमरान सिदरा सहर इमरान समकालीन
  • सहर अंसारी सहर अंसारी पिता
  • पूजा भाटिया पूजा भाटिया समकालीन
  • इरुम ज़ेहरा इरुम ज़ेहरा समकालीन

"कराची" के और शायर

  • नुज़हत अब्बासी नुज़हत अब्बासी
  • इसहाक़ अतहर सिद्दीक़ी इसहाक़ अतहर सिद्दीक़ी
  • इंजिला हमेश इंजिला हमेश
  • रज़िया सुबहान रज़िया सुबहान
  • मुज़फ्फर अली सय्यद मुज़फ्फर अली सय्यद
  • मक़बूल नक़्श मक़बूल नक़्श
  • सबीला इनाम सिद्दीक़ी सबीला इनाम सिद्दीक़ी
  • हसनैन जाफ़री हसनैन जाफ़री
  • अतहर ज़ियाई अतहर ज़ियाई
  • हफ़ीज़ फ़ातिमा बरेलवी हफ़ीज़ फ़ातिमा बरेलवी