Tasneem Faruqi's Photo'

तसनीम फ़ारूक़ी

1938 | लखनऊ, भारत

ग़ज़ल 5

 

शेर 2

चल कर कभी हमारे अंधेरे भी देखिए

हम लोग रौशनी में बड़े पुर-वक़ार हैं

  • शेयर कीजिए

रात मेरे पास तुझ को देख कर

देर तक रूठी रहीं तन्हाइयाँ

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 2

Chehra Chehra Dharti

 

1988

Mauj-e-Tasneem

 

1983

 

"लखनऊ" के और शायर

  • वाली आसी वाली आसी
  • आदिल लखनवी आदिल लखनवी
  • गोपी नाथ अम्न गोपी नाथ अम्न
  • बशीर फ़ारूक़ी बशीर फ़ारूक़ी
  • साग़र ख़य्यामी साग़र ख़य्यामी
  • मोहसिन ज़ैदी मोहसिन ज़ैदी
  • मेराज फ़ैज़ाबादी मेराज फ़ैज़ाबादी
  • आजिज़ मातवी आजिज़ मातवी
  • मलिकज़ादा मंज़ूर अहमद मलिकज़ादा मंज़ूर अहमद
  • अज़ीज़ बानो दाराब  वफ़ा अज़ीज़ बानो दाराब वफ़ा