मुरादाबाद के शायर और अदीब

कुल: 84

उर्दू के प्रसिद्ध कथाकारों में शामिल, अपनी असाधारण गद्य लेखन के लिए मशहूर. ‘लैला के ख़ुतूत’ और ‘मजनूँ की डायरी’ जैसी महत्वपूर्ण किताबों के लेखक।

Jashn-e-Rekhta | 2-3-4 December 2022 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate, New Delhi

GET YOUR FREE PASS
बोलिए