शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
खिला रहेगा किसी याद के जज़ीरे पर-आफ़ताब हुसैन

आफ़ताब हुसैन

थम गया दर्द उजाला हुआ तन्हाई में-अहमद मुश्ताक़

अहमद मुश्ताक़

कपड़े बदल कर बाल बना कर कहाँ चले हो किस के लिए-नासिर काज़मी

नासिर काज़मी

ख़्वाब में नाम तिरा ले के पुकार उठता हूँ-लाला माधव राम जौहर

लाला माधव राम जौहर

रहिए अब ऐसी जगह चल कर जहाँ कोई न हो-मिर्ज़ा ग़ालिब

मिर्ज़ा ग़ालिब

न हो कि क़ुर्ब ही फिर मर्ग-ए-रब्त बन जाए-इफ़्तिख़ार नसीम

इफ़्तिख़ार नसीम

आई हवा न रास जो सायों के शहर की-अब्दुल अहद साज़

अब्दुल अहद साज़

क़ुर्बतें लाख ख़ूब-सूरत हों-अहमद फ़राज़

अहमद फ़राज़

ये कैसा नश्शा है मैं किस अजब ख़ुमार में हूँ-मुनीर नियाज़ी

मुनीर नियाज़ी

दिल पागल है रोज़ नई नादानी करता है-इफ़्तिख़ार आरिफ़

इफ़्तिख़ार आरिफ़

ज़मीं का आख़िरी मंज़र दिखाई देने लगा-शाहीन अब्बास

शाहीन अब्बास

मता-ए-ग़ैर-साहिर लुधियानवी

साहिर लुधियानवी

दिल भी पागल है कि उस शख़्स से वाबस्ता है-अहमद फ़राज़

अहमद फ़राज़

सुनो ख़ामोश ही हस्ती मिरी तुम से जुदा होगी-फ़ैसल फेहमी

फ़ैसल फेहमी