शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
पुराने यार भी आपस में अब नहीं मिलते-फ़ाज़िल जमीली

फ़ाज़िल जमीली

नगरी नगरी फिरा मुसाफ़िर घर का रस्ता भूल गया-मीराजी

मीराजी

तेरा चेहरा कितना सुहाना लगता है-कैफ़ भोपाली

कैफ़ भोपाली

सुना है रात पूरे चाँद की है-मनीश शुक्ला

मनीश शुक्ला

ये हिजरतों का ज़माना भी क्या ज़माना है-सय्यद सरोश आसिफ़

सय्यद सरोश आसिफ़

इन दूरियों ने और बढ़ा दी हैं क़ुर्बतें-ऐतबार साजिद

ऐतबार साजिद

चाहतों का जहान है उर्दू-कृष्ण मोहन

कृष्ण मोहन

एक दर्द-ए-जुदाई का ग़म क्या करें-मज़हर इमाम

मज़हर इमाम

एक आँसू भी हुकूमत के लिए ख़तरा है-मुनव्वर राना

मुनव्वर राना

नफ़रतों का अक्स भी पड़ने न देना ज़ेहन पर-तुफ़ैल चतुर्वेदी

तुफ़ैल चतुर्वेदी

लहजा कि जैसे सुब्ह की ख़ुश्बू अज़ान दे-बशीर बद्र

बशीर बद्र

नफ़रत के ख़ज़ाने में तो कुछ भी नहीं बाक़ी-इरफ़ान सिद्दीक़ी

इरफ़ान सिद्दीक़ी

मिल ही आते हैं उसे ऐसा भी क्या हो जाएगा-अहमद मुश्ताक़

अहमद मुश्ताक़

ख़ुद चराग़ बन के जल वक़्त के अंधेरे में-हस्तीमल हस्ती

हस्तीमल हस्ती