Aasi Karnali's Photo'

आसी करनाली

1927 - 2011 | पाकिस्तान

ग़ज़ल 1

 

शेर 1

मैं आख़िर आदमी हूँ कोई लग़्ज़िश हो ही जाती है

मगर इक वस्फ़ है मुझ में दिल-आज़ारी नहीं करता

 

ई-पुस्तक 1