noImage

आदिल फ़ारूक़ी

आदिल फ़ारूक़ी

शेर 2

पूछो हुस्न की तारीफ़ हम से

मोहब्बत जिस से हो बस वो हसीं है

  • शेयर कीजिए

हिज्र में भी हम उदास उतने थे

मिल के बिछड़े तो हुए जितने उदास

  • शेयर कीजिए
 

चित्र शायरी 1

न पूछो हुस्न की तारीफ़ हम से मोहब्बत जिस से हो बस वो हसीं है