Afzaal Firdaus's Photo'

अफ़ज़ाल फ़िरदौस

1957 | पाकिस्तान

ग़ज़ल 8

शेर 7

किसी ने मुझ से कह दिया था ज़िंदगी पे ग़ौर कर

मैं शाख़ पर खिला हुआ गुलाब देखता रहा

इस तरह सताया है परेशान किया है

गोया कि मोहब्बत नहीं एहसान किया है

मुश्किल था बहुत मेरे लिए तर्क-ए-तअल्लुक़

ये काम भी तुम ने मिरा आसान किया है

ई-पुस्तक 1