ग़ज़ल 1

 

शेर 1

आज खेलेंगे मिरे ख़ून से होली सब लोग

कितना रंगीन हर इक शख़्स का दामाँ होगा

 

"लंदन" के और शायर

  • जामी रुदौलवी जामी रुदौलवी
  • रूप साग़र रूप साग़र
  • ग़ुलाम नबी हकीम ग़ुलाम नबी हकीम
  • मुजीब ईमान मुजीब ईमान
  • एजाज़ अहमद एजाज़ एजाज़ अहमद एजाज़
  • बुलबुल काश्मीरी बुलबुल काश्मीरी
  • सिद्दीक़ा शबनम सिद्दीक़ा शबनम
  • ख़्वाज़ा महमूदुल हसन ख़्वाज़ा महमूदुल हसन
  • यशपाल गुप्ता यशपाल गुप्ता
  • अक़ील दानिश अक़ील दानिश