Meer Anees's Photo'

मीर अनीस

1803 - 1874 | लखनऊ, भारत

लखनऊ के अग्रगी क्लासिकी शायरों में विख्यात/मर्सिया के महान शायर

लखनऊ के अग्रगी क्लासिकी शायरों में विख्यात/मर्सिया के महान शायर

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
Studio_Videos
Namak e Khan e Takallum Hai fasahat Meri By Gauhar Lucknavi

Namak e Khan e Takallum Hai fasahat Meri By Gauhar Lucknavi गौहर लखनवी

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
Zia Mohiuddin recites Marsia Mir Anees Part 1

Zia Mohiuddin recites Marsia Mir Anees Part 1 ज़िया मोहीउद्दीन

मोहसिन अब्बास

नुसरत फ़तह अली ख़ान

ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

ज़मीर अख़्तर नक़वी

ज़मीर अख़्तर नक़वी

ज़मीर अख़्तर नक़वी

ज़मीर अख़्तर नक़वी

हफ़ीज़ जालंधरी

जौहर अब्बास

लता मंगेशकर

कोई अनीस कोई आश्ना नहीं रखते

कोई अनीस कोई आश्ना नहीं रखते अली असग़र

जब क़तअ' की मसाफ़त-ए-शब आफ़ताब ने

जब क़तअ' की मसाफ़त-ए-शब आफ़ताब ने ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

बख़ुदा फ़ारस-ए-मैदान-ए-तहव्वुर था 'हुर'

बख़ुदा फ़ारस-ए-मैदान-ए-तहव्वुर था 'हुर' ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

Studio_Videos

  • Namak e Khan e Takallum Hai fasahat Meri By Gauhar Lucknavi

    Namak e Khan e Takallum Hai fasahat Meri By Gauhar Lucknavi गौहर लखनवी

अन्य वीडियो

  • Zia Mohiuddin recites Marsia Mir Anees Part 1

    Zia Mohiuddin recites Marsia Mir Anees Part 1 ज़िया मोहीउद्दीन

  • मोहसिन अब्बास

  • नुसरत फ़तह अली ख़ान

  • ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

  • ज़मीर अख़्तर नक़वी

  • ज़मीर अख़्तर नक़वी

  • ज़मीर अख़्तर नक़वी

  • ज़मीर अख़्तर नक़वी

  • हफ़ीज़ जालंधरी

  • जौहर अब्बास

  • लता मंगेशकर

  • कोई अनीस कोई आश्ना नहीं रखते

    कोई अनीस कोई आश्ना नहीं रखते अली असग़र

  • जब क़तअ' की मसाफ़त-ए-शब आफ़ताब ने

    जब क़तअ' की मसाफ़त-ए-शब आफ़ताब ने ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी

  • बख़ुदा फ़ारस-ए-मैदान-ए-तहव्वुर था 'हुर'

    बख़ुदा फ़ारस-ए-मैदान-ए-तहव्वुर था 'हुर' ज़ुल्फ़िक़ार अली बुख़ारी