Mohsin Naqvi's Photo'

मोहसिन नक़वी

1947 - 1996 | मुल्तान, पाकिस्तान

लोकप्रिय पाकिस्तानी शायरी, कम उम्र में देहांत।

लोकप्रिय पाकिस्तानी शायरी, कम उम्र में देहांत।

मोहसिन नक़वी के वीडियो

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए
At a mushaira

मोहसिन नक़वी

Mohsin Naqvi Shaheed explains the personality of Ghazi Abbbas poetry and Musaib

मोहसिन नक़वी

Reciting marsiya

मोहसिन नक़वी

वीडियो का सेक्शन
शायरी वीडियो
At a mushaira

मोहसिन नक़वी

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
Ab ke uski aankhon mein

Ab ke uski aankhon mein अज्ञात

Chalo chodo mohabbat jhoot hai

Chalo chodo mohabbat jhoot hai अज्ञात

Kaee saal guzre kaee saal beete

Kaee saal guzre kaee saal beete अज्ञात

Maine dekha tha un dino mein use

Maine dekha tha un dino mein use अज्ञात

Mujhe ab laut jane de

Mujhe ab laut jane de अज्ञात

Na samaaton mein tapish ghuleNa samaaton mein tapish ghule

Na samaaton mein tapish ghuleNa samaaton mein tapish ghule अज्ञात

Teri aankhen

Teri aankhen अज्ञात

Wo jiska naam bhi liya

Wo jiska naam bhi liya मंसूर मलंगी

अश्क अपना कि तुम्हारा नहीं देखा जाता

अश्क अपना कि तुम्हारा नहीं देखा जाता भारती विश्वनाथन

इतनी मुद्दत बा'द मिले हो

इतनी मुद्दत बा'द मिले हो ग़ुलाम अली

उजड़े हुए लोगों से गुरेज़ाँ न हुआ कर

उजड़े हुए लोगों से गुरेज़ाँ न हुआ कर आदिल क़ुरेशी

कठिन तन्हाइयों से कौन खेला मैं अकेला

कठिन तन्हाइयों से कौन खेला मैं अकेला मेहरान अमरोही

जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रस्ता सुनसान हुआ

जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रस्ता सुनसान हुआ ग़ुलाम अली

ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी

ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी ग़ुलाम अली

ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी

ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी मोहसिन नक़वी

हर एक शब यूँही देखेंगी सू-ए-दर आँखें

हर एक शब यूँही देखेंगी सू-ए-दर आँखें अज्ञात

शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

  • At a mushaira

    At a mushaira मोहसिन नक़वी

  • Mohsin Naqvi Shaheed explains the personality of Ghazi Abbbas poetry and Musaib

    Mohsin Naqvi Shaheed explains the personality of Ghazi Abbbas poetry and Musaib मोहसिन नक़वी

  • Reciting marsiya

    Reciting marsiya मोहसिन नक़वी

शायरी वीडियो

  • At a mushaira

    At a mushaira मोहसिन नक़वी

अन्य वीडियो

  • Ab ke uski aankhon mein

    Ab ke uski aankhon mein अज्ञात

  • Chalo chodo mohabbat jhoot hai

    Chalo chodo mohabbat jhoot hai अज्ञात

  • Kaee saal guzre kaee saal beete

    Kaee saal guzre kaee saal beete अज्ञात

  • Maine dekha tha un dino mein use

    Maine dekha tha un dino mein use अज्ञात

  • Mujhe ab laut jane de

    Mujhe ab laut jane de अज्ञात

  • Na samaaton mein tapish ghuleNa samaaton mein tapish ghule

    Na samaaton mein tapish ghuleNa samaaton mein tapish ghule अज्ञात

  • Teri aankhen

    Teri aankhen अज्ञात

  • Wo jiska naam bhi liya

    Wo jiska naam bhi liya मंसूर मलंगी

  • अश्क अपना कि तुम्हारा नहीं देखा जाता

    अश्क अपना कि तुम्हारा नहीं देखा जाता भारती विश्वनाथन

  • इतनी मुद्दत बा'द मिले हो

    इतनी मुद्दत बा'द मिले हो ग़ुलाम अली

  • उजड़े हुए लोगों से गुरेज़ाँ न हुआ कर

    उजड़े हुए लोगों से गुरेज़ाँ न हुआ कर आदिल क़ुरेशी

  • कठिन तन्हाइयों से कौन खेला मैं अकेला

    कठिन तन्हाइयों से कौन खेला मैं अकेला मेहरान अमरोही

  • जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रस्ता सुनसान हुआ

    जब से उस ने शहर को छोड़ा हर रस्ता सुनसान हुआ ग़ुलाम अली

  • ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी

    ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी ग़ुलाम अली

  • ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी

    ये दिल ये पागल दिल मिरा क्यूँ बुझ गया आवारगी मोहसिन नक़वी

  • हर एक शब यूँही देखेंगी सू-ए-दर आँखें

    हर एक शब यूँही देखेंगी सू-ए-दर आँखें अज्ञात