noImage

क़मर उस्मानी

सहारनपुर, भारत

इक माह-रुख़ से मेरी मुलाक़ात हो गई

जिस का गुमान भी था वो बात हो गई

Added to your favorites

Removed from your favorites