Suroor Jahanabadi's Photo'

सुरूर जहानाबादी

1873 - 1910

नयी नज़्म को विषयगत और शैली के लिहाज़ से समृद्ध करने में मुख्य भूमिका निभाई

नयी नज़्म को विषयगत और शैली के लिहाज़ से समृद्ध करने में मुख्य भूमिका निभाई

ग़ज़ल 4

 

नज़्म 9

शेर 2

बजाए मय दिया पानी का इक गिलास मुझे

समझ लिया मिरे साक़ी ने बद-हवास मुझे

  • शेयर कीजिए

अपनी मिट्टी है कहाँ की क्या ख़बर बाद-ए-सबा

हो परेशाँ देखिए किस किस जगह मुश्त-ए-ग़ुबार

  • शेयर कीजिए
 

रुबाई 4

 

पुस्तकें 11

Durga Sahaye Suroor Jahanabadi: Tahqeeqi Aur Tanqeedi Jaeze

 

2010

Hindustani Adab Ke Memar : Durga Sahay Suroor Jahanabadi

 

2001

Intikhab-e-Kalam Suroor Jahanabadi

 

1966

Jam-e-Suroor

yaad-gaar-e-suruur

 

Khumkada-e-Suroor

 

 

Khumkhana-e-Suroor

 

1911

Muntakhab Nazmen

 

1988

Nawa-e-Suroor

 

1967

Nawa-e-Suroor

 

1967

पैमाना-ए-सुरूर