noImage

ताहिर अब्बास

पाकिस्तान

शेर 1

अपनी तंहाई को आबाद तो कर सकते हैं

हम तुझे मिल सकें याद तो कर सकते हैं

  • शेयर कीजिए