ADVERTISEMENT

नाबालिग़ पर उद्धरण

मीठा पान, ठुमरी और नॉवेल, ये सब नाबालिगों के शुग़्ल हैं।

मुश्ताक़ अहमद यूसुफ़ी
ADVERTISEMENT