राजनीति

की मोहब्बत तो सियासत का चलन छोड़ दिया

हम अगर इश्क़ करते तो हुकूमत करते

अज्ञात

सम्बंधित विषय