शेर

विषयानुसार हज़ारों लोकप्रिय शेर

चित्र शायरी

शायरी की सैकड़ों खूबसूरत तस्वीरें शेयर कीजिए

समस्त
अपने चेहरे से जो ज़ाहिर है छुपाएँ कैसे-वसीम बरेलवी

वसीम बरेलवी

उस हिज्र पे तोहमत कि जिसे वस्ल की ज़िद हो-विपुल कुमार

विपुल कुमार

जो लोग गुज़रते हैं मुसलसल रह-ए-दिल से-ओबैद आज़म आज़मी

ओबैद आज़म आज़मी

एक इक बात में सच्चाई है उस की लेकिन-कफ़ील आज़र अमरोहवी

कफ़ील आज़र अमरोहवी

अपनी हालत का ख़ुद एहसास नहीं है मुझ को-आसी उल्दनी

आसी उल्दनी

ज़ीस्त से तंग हो ऐ 'दाग़' तो जीते क्यूँ हो-दाग़ देहलवी

दाग़ देहलवी

तुम्हारी दुनिया के बाहर अंदर भटक रहा हूँ-पल्लव मिश्रा

पल्लव मिश्रा

दुआ को हात उठाते हुए लरज़ता हूँ-इफ़्तिख़ार आरिफ़

इफ़्तिख़ार आरिफ़

अपनी आँखों के समुंदर में उतर जाने दे-नज़ीर बाक़री

नज़ीर बाक़री

सुब्ह होती है शाम होती है-मुंशी अमीरुल्लाह तस्लीम

मुंशी अमीरुल्लाह तस्लीम

शब-ए-विसाल तिरे दिल के साथ लग कर भी-ज़फ़र इक़बाल

ज़फ़र इक़बाल

ये एक अब्र का टुकड़ा कहाँ कहाँ बरसे-शकेब जलाली

शकेब जलाली

रूह घबराई हुई फिरती है मेरी लाश पर-फ़ानी बदायुनी

फ़ानी बदायुनी

नहीं निगाह में मंज़िल तो जुस्तुजू ही सही-फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

फ़ैज़ अहमद फ़ैज़