जश्न-ए-आज़ादी

देश प्रेम की भावना पर आधारित उर्दू की चुनिंदा शायरी

नक़्शा ले कर हाथ में बच्चा है हैरान

कैसे दीमक खा गई उस का हिन्दोस्तान

निदा फ़ाज़ली