Abul Hasanat Haqqi's Photo'

अबुल हसनात हक़्क़ी

कानपुर, भारत

ग़ज़ल

तमाम हिज्र उसी का विसाल है उस का

अबुल हसनात हक़्क़ी

शिकस्त-ए-अहद पर इस के सिवा बहाना भी क्या

अबुल हसनात हक़्क़ी

बे-नियाज़ दहर कर देता है इश्क़

फ़हद हुसैन

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI