Haseeb Soz's Photo'

हसीब सोज़

बदायूँ, भारत

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

हसीब सोज़

हसीब सोज़

ख़ुद को इतना जो हवा-दार समझ रक्खा है

हसीब सोज़

दर्द आसानी से कब पहलू बदल कर निकला

हसीब सोज़

नज़र न आए हम अहल-ए-नज़र के होते हुए

हसीब सोज़

यहाँ मज़बूत से मज़बूत लोहा टूट जाता है

हसीब सोज़

हमारे ख़्वाब सब ताबीर से बाहर निकल आए

हसीब सोज़

शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

  • हसीब सोज़

  • हसीब सोज़

  • ख़ुद को इतना जो हवा-दार समझ रक्खा है

    ख़ुद को इतना जो हवा-दार समझ रक्खा है हसीब सोज़

  • दर्द आसानी से कब पहलू बदल कर निकला

    दर्द आसानी से कब पहलू बदल कर निकला हसीब सोज़

  • नज़र न आए हम अहल-ए-नज़र के होते हुए

    नज़र न आए हम अहल-ए-नज़र के होते हुए हसीब सोज़

  • यहाँ मज़बूत से मज़बूत लोहा टूट जाता है

    यहाँ मज़बूत से मज़बूत लोहा टूट जाता है हसीब सोज़

  • हमारे ख़्वाब सब ताबीर से बाहर निकल आए

    हमारे ख़्वाब सब ताबीर से बाहर निकल आए हसीब सोज़