Inam Nadeem's Photo'

इनाम नदीम

1967

पाकिस्तान के सबसे विख्यात समकालीन शायरों में शामिल।

पाकिस्तान के सबसे विख्यात समकालीन शायरों में शामिल।

ग़ज़ल 12

शेर 15

ये मोहब्बत भी एक नेकी है

इस को दरिया में डाल आते हैं

एक लम्हा लौट कर आया नहीं

ये बरस भी राएगाँ रुख़्सत हुआ

  • शेयर कीजिए

दरिया को किनारे से क्या देखते रहते हो

अंदर से कभी देखो कैसा नज़र आता है

Added to your favorites

Removed from your favorites