Kaifi Azmi's Photo'

कैफ़ी आज़मी

1919 - 2002 | मुंबई, भारत

लोकप्रिय प्रमुख प्रगतिशील शायर और फि़ल्म गीतकार/हीर राँझा और काग़ज़ के फूल के गीतों के लिए प्रसिद्ध

लोकप्रिय प्रमुख प्रगतिशील शायर और फि़ल्म गीतकार/हीर राँझा और काग़ज़ के फूल के गीतों के लिए प्रसिद्ध

ग़ज़ल

ख़ार-ओ-ख़स तो उठें रास्ता तो चले

कैफ़ी आज़मी

लाई फिर एक लग़्ज़िश-ए-मस्ताना तेरे शहर में

कैफ़ी आज़मी

क्या जाने किस की प्यास बुझाने किधर गईं

नोमान शौक़

कहीं से लौट के हम लड़खड़ाए हैं क्या क्या

नोमान शौक़

की है कोई हसीन ख़ता हर ख़ता के साथ

नोमान शौक़

ख़ार-ओ-ख़स तो उठें रास्ता तो चले

नोमान शौक़

पत्थर के ख़ुदा वहाँ भी पाए

नोमान शौक़

मैं ढूँडता हूँ जिसे वो जहाँ नहीं मिलता

नोमान शौक़

लाई फिर एक लग़्ज़िश-ए-मस्ताना तेरे शहर में

नोमान शौक़

वो भी सराहने लगे अर्बाब-ए-फ़न के बा'द

कैफ़ी आज़मी

शोर यूँही न परिंदों ने मचाया होगा

नोमान शौक़

सुना करो मिरी जाँ इन से उन से अफ़्साने

नोमान शौक़

हाथ आ कर लगा गया कोई

कैफ़ी आज़मी

वो भी सराहने लगे अर्बाब-ए-फ़न के बा'द

नोमान शौक़

हाथ आ कर लगा गया कोई

नोमान शौक़

नज़्म

एहतियात

नोमान शौक़

चराग़ाँ

कैफ़ी आज़मी

चराग़ाँ

नोमान शौक़

चराग़ाँ

कैफ़ी आज़मी

दूसरा बन-बास

नोमान शौक़

दाएरा

कैफ़ी आज़मी

दाएरा

फ़हद हुसैन

नज़राना

कैफ़ी आज़मी

नज़राना

जावेद नसीम

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI