Kunwar Ejaz Raja's Photo'

कुंवर एजाज़ राजा

1951 | पाकिस्तान

ग़ज़ल 1

 

शेर 1

अपनी ख़्वाहिश में जो बस गए हैं वो दीवार-ओ-दर छोड़ दें

धूप आँखों में चुभने लगी है तो क्या हम सफ़र छोड़ दें

 

पुस्तकें 1

Fitrak

 

1990