noImage

शफ़ीक़ कोटी

1903 - 1976

शेर 1

कोई ताज़ा सितम ईजाद करना है उन्हें शायद

तसल्ली आज वो क्यूँ दे रहे हैं अपने बिस्मिल को

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 2

Anjum Kada

 

1946

Anjum Kadah

 

1946