Sibt Ali Saba's Photo'

सिब्त अली सबा

1935 - 1980 | पाकिस्तान

ग़ज़ल 9

शेर 2

जब चली ठंडी हवा बच्चा ठिठुर कर रह गया

माँ ने अपने ला'ल की तख़्ती जला दी रात को

दीवार क्या गिरी मिरे ख़स्ता मकान की

लोगों ने मेरे सेहन में रस्ते बना लिए

 

पुस्तकें 1

Tasht-e-Murad

 

1986