सँभाला होश तो मरने लगे हसीनों पर

हमें तो मौत ही आई शबाब के बदले