Yaqoob Yawar's Photo'

याक़ूब यावर

1952 | बनारस, भारत

शेर 6

पहाड़ जैसी अज़्मतों का दाख़िला था शहर में

कि लोग आगही का इश्तिहार ले के चल दिए

तू ला-मकाँ में रहे और मैं मकाँ में असीर

ये क्या कि मुझ पे इताअत तिरी हराम हुई

शहर-ए-सुख़न अजीब हो गया है

नाक़िद यहाँ अदीब हो गया है

ग़ज़ल 9

पुस्तकें 24

Alif

 

1988

Aqleem Aswad

 

1990

अज़ाज़ील

 

2001

Darra-e-Khaiber Ke Us Paar

 

1988

दिलमुन

 

1998

Dilmun

 

1998

Dr. Zhivago

 

2000

Imroz

Asri Mazameen

1990

Jihad

 

2009

Jihad

 

2009