Bayan Meeruthi's Photo'

बयान मेरठी

1840 - 1900 | मेरठ, भारत

दाग़ के समकालीन, उर्दू और फ़ारसी में शायरी की, आधुनिक शायरी के आंदोलन से प्रभावित होकर नये अंदाज़ की नज़्में भी लिखीं

दाग़ के समकालीन, उर्दू और फ़ारसी में शायरी की, आधुनिक शायरी के आंदोलन से प्रभावित होकर नये अंदाज़ की नज़्में भी लिखीं

ग़ज़ल 14

शेर 16

याद में ख़्वाब में तसव्वुर में

कि आने के हैं हज़ार तरीक़

  • शेयर कीजिए

अदाएँ ता-अबद बिखरी पड़ी हैं

अज़ल में फट पड़ा जोबन किसी का

  • शेयर कीजिए

नहीं ये आदमी का काम वाइ'ज़

हमारे बुत तराशे हैं ख़ुदा ने

  • शेयर कीजिए

रुबाई 10

पुस्तकें 3

Bayan Meeruti: Hayat-o-Shairi

 

1980

Bayan Merathi Ki Jadeed Nazmein

 

2000

दीवान-ए-बयान मेरठी

 

2007

 

"मेरठ" के और लेखक

  • असलम जमशेदपुरी असलम जमशेदपुरी
  • ख़ालिद हुसैन ख़ाँ ख़ालिद हुसैन ख़ाँ