उन्नाव के शायर और अदीब

कुल: 14

स्वतंत्रता सेनानी और संविधान सभा के सदस्य। ' इंक़िलाब ज़िन्दाबाद ' का नारा दिया। कृष्ण भक्त , अपनी ग़ज़ल ' चुपके चुपके, रात दिन आँसू बहाना याद है ' के लिए प्रसिद्ध

प्रख्यात शायर जिन्हें लखनवी शायरी के शायरना महावरों पर दक्षता थी

प्रतिरोध और आधुनिक सामाजिक समस्याओं को अपनी शायरी में शामिल करनेवाली शायरा।

मशहूर फ़िक्शन नवीस, अफ़सानों के साथ कई नॉवेल भी लिखे.

समकालिक कथाकार,आधुनिक सामाजिक समस्याओं को प्रतिबिम्बित करती कहानियां और नॉवेल लिखने के लिए जाने जाते हैं.

बोलिए