Akhtar Jamal's Photo'

अख़्तर जमाल

1959 - 2020 | भिवंडी, भारत

अख़्तर जमाल

शेर 2

हम पहाड़ों को रौंद आए थे

जब सलीक़ा नहीं था चलने का

  • शेयर कीजिए

जिस को देखा ही नहीं आँखों ने

उस की तस्वीर बना देते हैं

  • शेयर कीजिए
 

"भिवंडी" के और शायर

  • नदीम फ़ाज़ली नदीम फ़ाज़ली
  • मासूम अंसारी मासूम अंसारी