Aziz Ansari's Photo'

अज़ीज़ अन्सारी

इंदौर, भारत

अम्न और आश्ती से उस को क्या

उस का मक़्सद तो इंतिशार में है

ये अपनी बेबसी है या कि अपनी बे-हिसी यारो

है अपना हाथ उन के सामने जो ख़ुद भिकारी हैं

हमारी मुफ़्लिसी आवारगी पे तुम को हैरत क्यूँ

हमारे पास जो कुछ है वो सौग़ातें तुम्हारी हैं

अपने लिए ही मुश्किल है

इज़्ज़त से जी पाना भी