aaj ik aur baras biit gayā us ke baġhair

jis ke hote hue hote the zamāne mere

रद करें डाउनलोड शेर
Irfan Abid's Photo'

इरफ़ान आबिद

1993 | बरेली, भारत

इरफ़ान आबिद

ग़ज़ल 11

अशआर 3

हालात कह रहे हैं कि अब वो आएँगे

उम्मीद कह रही है ज़रा इंतिज़ार कर

  • शेयर कीजिए

तड़पेंगे तिरी याद में घबराएँगे तन्हा

दोस्त किसी तौर जी पाएँगे तन्हा

  • शेयर कीजिए

जीने का अकेले तो तसव्वुर भी नहीं है

हम तुझ से जुदा होंगे तो मर जाएँगे तन्हा

  • शेयर कीजिए
 

"बरेली" के और शायर

Recitation

Jashn-e-Rekhta | 8-9-10 December 2023 - Major Dhyan Chand National Stadium, Near India Gate - New Delhi

GET YOUR PASS
बोलिए