Khumar Barabankavi's Photo'

ख़ुमार बाराबंकवी

1919 - 1999 | बाराबंकी, भारत

लोकप्रिय शायर, फिल्मी गीत भी लिखे।

लोकप्रिय शायर, फिल्मी गीत भी लिखे।

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

ख़ुमार बाराबंकवी

ख़ुमार बाराबंकवी

ख़ुमार बाराबंकवी

ख़ुमार बाराबंकवी

ख़ुमार बाराबंकवी

ख़ुमार बाराबंकवी

Aankhon ke charagon mein ujaale na rahenge

ख़ुमार बाराबंकवी

Aye maut unko bhulaye zamane guzar gaye

ख़ुमार बाराबंकवी

Chala Hoon Main Kooche Se

ख़ुमार बाराबंकवी

Kabhi sher-o-naghma ban ke

ख़ुमार बाराबंकवी

अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं

ख़ुमार बाराबंकवी

अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं

ख़ुमार बाराबंकवी

इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए

ख़ुमार बाराबंकवी

ऐ मौत उन्हें भुलाए ज़माने गुज़र गए

ख़ुमार बाराबंकवी

कभी शेर-ओ-नग़्मा बन के कभी आँसुओं में ढल के

ख़ुमार बाराबंकवी

क्या हुआ हुस्न है हम-सफ़र या नहीं

ख़ुमार बाराबंकवी

ग़म दुनिया बहुत ईज़ा-रसाँ है

ख़ुमार बाराबंकवी

झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं

ख़ुमार बाराबंकवी

तू चाहिए न तेरी वफ़ा चाहिए मुझे

ख़ुमार बाराबंकवी

तिरे दर से उठ कर जिधर जाऊँ मैं

ख़ुमार बाराबंकवी

दिल को तस्कीन-ए-यार ले डूबी

ख़ुमार बाराबंकवी

न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है

ख़ुमार बाराबंकवी

बात जब दोस्तों की आती है

ख़ुमार बाराबंकवी

बात जब दोस्तों की आती है

ख़ुमार बाराबंकवी

मुझ को शिकस्त-ए-दिल का मज़ा याद आ गया

ख़ुमार बाराबंकवी

ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है

ख़ुमार बाराबंकवी

ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है

ख़ुमार बाराबंकवी

वही फिर मुझे याद आने लगे हैं

ख़ुमार बाराबंकवी

वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे

ख़ुमार बाराबंकवी

वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे

ख़ुमार बाराबंकवी

हम उन्हें वो हमें भुला बैठे

ख़ुमार बाराबंकवी

हुस्न जब मेहरबाँ हो तो क्या कीजिए

ख़ुमार बाराबंकवी

हँसने वाले अब एक काम करें

ख़ुमार बाराबंकवी

वीडियो का सेक्शन
अन्य वीडियो
इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए

इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए अज्ञात

ऐसा नहीं कि उन से मोहब्बत नहीं रही

ऐसा नहीं कि उन से मोहब्बत नहीं रही छाया गांगुली

झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं

झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं बेगम अख़्तर

वही फिर मुझे याद आने लगे हैं

वही फिर मुझे याद आने लगे हैं हरिहरण

हाल-ए-ग़म उन को सुनाते जाइए

हाल-ए-ग़म उन को सुनाते जाइए गुलशन आरा सैयद

शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • ख़ुमार बाराबंकवी

  • Aankhon ke charagon mein ujaale na rahenge

    Aankhon ke charagon mein ujaale na rahenge ख़ुमार बाराबंकवी

  • Aye maut unko bhulaye zamane guzar gaye

    Aye maut unko bhulaye zamane guzar gaye ख़ुमार बाराबंकवी

  • Chala Hoon Main Kooche Se

    Chala Hoon Main Kooche Se ख़ुमार बाराबंकवी

  • Kabhi sher-o-naghma ban ke

    Kabhi sher-o-naghma ban ke ख़ुमार बाराबंकवी

  • अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं

    अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं ख़ुमार बाराबंकवी

  • अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं

    अकेले हैं वो और झुँझला रहे हैं ख़ुमार बाराबंकवी

  • इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए

    इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए ख़ुमार बाराबंकवी

  • ऐ मौत उन्हें भुलाए ज़माने गुज़र गए

    ऐ मौत उन्हें भुलाए ज़माने गुज़र गए ख़ुमार बाराबंकवी

  • कभी शेर-ओ-नग़्मा बन के कभी आँसुओं में ढल के

    कभी शेर-ओ-नग़्मा बन के कभी आँसुओं में ढल के ख़ुमार बाराबंकवी

  • क्या हुआ हुस्न है हम-सफ़र या नहीं

    क्या हुआ हुस्न है हम-सफ़र या नहीं ख़ुमार बाराबंकवी

  • ग़म दुनिया बहुत ईज़ा-रसाँ है

    ग़म दुनिया बहुत ईज़ा-रसाँ है ख़ुमार बाराबंकवी

  • झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं

    झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं ख़ुमार बाराबंकवी

  • तू चाहिए न तेरी वफ़ा चाहिए मुझे

    तू चाहिए न तेरी वफ़ा चाहिए मुझे ख़ुमार बाराबंकवी

  • तिरे दर से उठ कर जिधर जाऊँ मैं

    तिरे दर से उठ कर जिधर जाऊँ मैं ख़ुमार बाराबंकवी

  • दिल को तस्कीन-ए-यार ले डूबी

    दिल को तस्कीन-ए-यार ले डूबी ख़ुमार बाराबंकवी

  • न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है

    न हारा है इश्क़ और न दुनिया थकी है ख़ुमार बाराबंकवी

  • बात जब दोस्तों की आती है

    बात जब दोस्तों की आती है ख़ुमार बाराबंकवी

  • बात जब दोस्तों की आती है

    बात जब दोस्तों की आती है ख़ुमार बाराबंकवी

  • मुझ को शिकस्त-ए-दिल का मज़ा याद आ गया

    मुझ को शिकस्त-ए-दिल का मज़ा याद आ गया ख़ुमार बाराबंकवी

  • ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है

    ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है ख़ुमार बाराबंकवी

  • ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है

    ये मिस्रा नहीं है वज़ीफ़ा मिरा है ख़ुमार बाराबंकवी

  • वही फिर मुझे याद आने लगे हैं

    वही फिर मुझे याद आने लगे हैं ख़ुमार बाराबंकवी

  • वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे

    वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे ख़ुमार बाराबंकवी

  • वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे

    वो हमें जिस क़दर आज़माते रहे ख़ुमार बाराबंकवी

  • हम उन्हें वो हमें भुला बैठे

    हम उन्हें वो हमें भुला बैठे ख़ुमार बाराबंकवी

  • हुस्न जब मेहरबाँ हो तो क्या कीजिए

    हुस्न जब मेहरबाँ हो तो क्या कीजिए ख़ुमार बाराबंकवी

  • हँसने वाले अब एक काम करें

    हँसने वाले अब एक काम करें ख़ुमार बाराबंकवी

अन्य वीडियो

  • इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए

    इक पल में इक सदी का मज़ा हम से पूछिए अज्ञात

  • ऐसा नहीं कि उन से मोहब्बत नहीं रही

    ऐसा नहीं कि उन से मोहब्बत नहीं रही छाया गांगुली

  • झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं

    झुँझलाए हैं लजाए हैं फिर मुस्कुराए हैं बेगम अख़्तर

  • वही फिर मुझे याद आने लगे हैं

    वही फिर मुझे याद आने लगे हैं हरिहरण

  • हाल-ए-ग़म उन को सुनाते जाइए

    हाल-ए-ग़म उन को सुनाते जाइए गुलशन आरा सैयद