Mushir Jhanjhanvi's Photo'

मुशीर झंझान्वी

1926 - 1990 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल

तेरी चश्म-ए-सितम-ईजाद से डर लगता है

नोमान शौक़

ताब-ए-नज़र से उन को परेशाँ किए हुए

नोमान शौक़

दिल बेताब-ए-मर्ग-ए-ना-गहाँ बाक़ी न रह जाए

नोमान शौक़

नज़रों की ज़िद से यूँ तो मैं ग़ाफ़िल नहीं रहा

नोमान शौक़

नसीब-ए-इश्क़ मसर्रत कभी नहीं होती

नोमान शौक़

मोहब्बत में सहर ऐ दिल बराए नाम आती है

नोमान शौक़

सितम में भी शान-ए-करम देखते हैं

नोमान शौक़

सोज़-ओ-गुदाज़-ए-इश्क़ का चर्चा न कर सके

नोमान शौक़

हौसला दिल का हवादिस में बढ़ा रक्खा है

नोमान शौक़

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI