Mushir Jhanjhanvi's Photo'

मुशीर झंझान्वी

1926 - 1990 | दिल्ली, भारत

ग़ज़ल 12

नज़्म 1

 

शेर 2

मसर्रतों ने तो चाहा था दिल में जाएँ

हुजूम-ए-ग़म ने मगर उन को रास्ता दिया

happiness did indeed in my heart seek place

but the crowd of sorrows did not move to give them space

happiness did indeed in my heart seek place

but the crowd of sorrows did not move to give them space

  • शेयर कीजिए

वो सुन सकें कोई उनवाँ इसी लिए हम ने

बदल बदल के उन्हें दास्ताँ सुनाई है

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 2

Anfas-e-Ghazal

 

1992

 

ऑडियो 9

तेरी चश्म-ए-सितम-ईजाद से डर लगता है

ताब-ए-नज़र से उन को परेशाँ किए हुए

दिल बेताब-ए-मर्ग-ए-ना-गहाँ बाक़ी न रह जाए

Recitation

aah ko chahiye ek umr asar hote tak SHAMSUR RAHMAN FARUQI

संबंधित शायर

  • तमन्ना जमाली तमन्ना जमाली शिष्य
  • मुज़फ़्फ़र रज़्मी मुज़फ़्फ़र रज़्मी शिष्य
  • अनवर ताबाँ अनवर ताबाँ शिष्य
  • आसिम पीरज़ादा आसिम पीरज़ादा शिष्य
  • इफ़्फ़त ज़र्रीं इफ़्फ़त ज़र्रीं बेटी

"दिल्ली" के और शायर

  • अशहर हाशमी अशहर हाशमी
  • शीस मोहम्मद इस्माईल आज़मी शीस मोहम्मद इस्माईल आज़मी
  • ज़फ़र अनवर ज़फ़र अनवर
  • मुग़ल फ़ारूक़ परवाज़ मुग़ल फ़ारूक़ परवाज़
  • सरफ़राज़ ख़ालिद सरफ़राज़ ख़ालिद
  • अज़हर गौरी अज़हर गौरी
  • आज़िम कोहली आज़िम कोहली
  • मोहम्मद अली तिशना मोहम्मद अली तिशना
  • गुलज़ार देहलवी गुलज़ार देहलवी
  • सय्यद हामिद सय्यद हामिद