noImage

रासिख़ दहलवी

- 1907 | दिल्ली, भारत

'रासिख़' की फ़ाक़ा-मस्ती से अल्लाह की पनाह

खाता है सूखे टुकड़े भिगो कर शराब में