noImage

रासिख़ दहलवी

- 1907 | दिल्ली, भारत

शेर 1

'रासिख़' की फ़ाक़ा-मस्ती से अल्लाह की पनाह

खाता है सूखे टुकड़े भिगो कर शराब में

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 6

दीवान-ए-कमाल रासिख़

 

1916

Deewan-e-Rasikh

mirat-ul-Khayal

1896

Deewan-e-Rasikh

kamal-e-rasikh

1916

Kalam-e-Rasikh

 

1928

Kitaab-e-Marqoom

Part-001

 

Yadgar-e-Kalam-e-Rasikh

 

 

 

"दिल्ली" के और शायर

  • नसीम देहलवी नसीम देहलवी
  • हकीम आग़ा जान ऐश हकीम आग़ा जान ऐश
  • हीरा लाल फ़लक देहलवी हीरा लाल फ़लक देहलवी
  • सौरभ शेखर सौरभ शेखर
  • आदिल हयात आदिल हयात
  • सुधांशु फ़िरदौस सुधांशु फ़िरदौस
  • मुर्ली धर शाद मुर्ली धर शाद
  • अशोक लाल अशोक लाल
  • मीनू बख़्शी मीनू बख़्शी
  • वलीउल्लाह वली वलीउल्लाह वली