Sahir Siyalkoti's Photo'

साहिर सियालकोटी

1906 - 1984 | जालंधर, भारत

ग़ज़ल 3

 

शेर 6

होती है दूसरों को हमेशा ये नागवार

अपने सिवा किसी को नसीहत कीजिए

  • शेयर कीजिए

गुलों को तोड़ते हैं सूँघते हैं फेंक देते हैं

ज़ियादा भी नुमाइश हुस्न की अच्छी नहीं होती

  • शेयर कीजिए

सँभल कर पाँव रखना वादी-ए-इश्क़-ओ-मोहब्बत में

यहाँ जो सैर को आता है बच कर कम निकलता है

  • शेयर कीजिए

पुस्तकें 1

Hareem-e-Sukhan

 

1959

 

"जालंधर" के और शायर

  • अर्श मलसियानी अर्श मलसियानी
  • ख़ुशबीर सिंह शाद ख़ुशबीर सिंह शाद
  • सुदर्शन फ़ाकिर सुदर्शन फ़ाकिर
  • रेनू नय्यर रेनू नय्यर
  • कँवल एम ए कँवल एम ए
  • मख़मूर जालंधरी मख़मूर जालंधरी
  • नसीम नूर महली नसीम नूर महली
  • सलीम अंसारी सलीम अंसारी
  • क़ैस जालंधरी क़ैस जालंधरी
  • जोश मलसियानी जोश मलसियानी