Saqi Faruqi's Photo'

प्रमुख और नई दिशा देने वाले आधुनिक शायर

प्रमुख और नई दिशा देने वाले आधुनिक शायर

This video is playing from YouTube

वीडियो का सेक्शन
शायर अपना कलाम पढ़ते हुए
मैं खिल नहीं सका कि मुझे नम नहीं मिला

साक़ी फ़ारुक़ी

मैं तेरे ज़ुल्म दिखाता हूँ अपना मातम करने के लिए

साक़ी फ़ारुक़ी

ये कौन आया शबिस्ताँ के ख़्वाब पहने हुए

साक़ी फ़ारुक़ी

रात नादीदा बलाओं के असर में हम थे

साक़ी फ़ारुक़ी

हैं सेहर-ए-मुसव्विर में क़यामत नहीं करते

साक़ी फ़ारुक़ी

हिरास फैल गया है ज़मीन-दानों में

साक़ी फ़ारुक़ी

शायर अपना कलाम पढ़ते हुए

  • मैं खिल नहीं सका कि मुझे नम नहीं मिला

    मैं खिल नहीं सका कि मुझे नम नहीं मिला साक़ी फ़ारुक़ी

  • मैं तेरे ज़ुल्म दिखाता हूँ अपना मातम करने के लिए

    मैं तेरे ज़ुल्म दिखाता हूँ अपना मातम करने के लिए साक़ी फ़ारुक़ी

  • ये कौन आया शबिस्ताँ के ख़्वाब पहने हुए

    ये कौन आया शबिस्ताँ के ख़्वाब पहने हुए साक़ी फ़ारुक़ी

  • रात नादीदा बलाओं के असर में हम थे

    रात नादीदा बलाओं के असर में हम थे साक़ी फ़ारुक़ी

  • हैं सेहर-ए-मुसव्विर में क़यामत नहीं करते

    हैं सेहर-ए-मुसव्विर में क़यामत नहीं करते साक़ी फ़ारुक़ी

  • हिरास फैल गया है ज़मीन-दानों में

    हिरास फैल गया है ज़मीन-दानों में साक़ी फ़ारुक़ी