Ziaul Mustafa Turk's Photo'

ज़ियाउल मुस्तफ़ा तुर्क

1976 | मुल्तान, पाकिस्तान

ग़ज़ल 15

शेर 17

थोड़ी सी बारिश होती है

कितनी जल्दी भर जाता हूँ

आवाज़ों में बहते बहते

ख़ामोशी से मर जाता हूँ

जब बच्चों को देखता हूँ तो सोचता हूँ

मालिक इन फूलों की उम्र दराज़ करे

संबंधित शायर

  • काशिफ़ हुसैन ग़ाएर काशिफ़ हुसैन ग़ाएर समकालीन
  • हमज़ा दाइम हमज़ा दाइम शिष्य
  • सय्यद काशिफ़ रज़ा सय्यद काशिफ़ रज़ा समकालीन

"मुल्तान" के और शायर

  • ग़ुलाम हुसैन साजिद ग़ुलाम हुसैन साजिद
  • क़मर रज़ा शहज़ाद क़मर रज़ा शहज़ाद
  • मोहसिन नक़वी मोहसिन नक़वी
  • हिना अंबरीन हिना अंबरीन
  • अतहर नासिक अतहर नासिक
  • असलम अंसारी असलम अंसारी
  • अर्श सिद्दीक़ी अर्श सिद्दीक़ी
  • मुबश्शिर सईद मुबश्शिर सईद
  • आनिस मुईन आनिस मुईन
  • अरशद अब्बास ज़की अरशद अब्बास ज़की