Dilkash Sagari's Photo'

दिलकश सागरी

भोपाल, भारत

भोपाल के शायर. ‘गुमनाम गोशे’ और ‘भोपाल में ग़ज़ल’ नाम से दो काव्य संचयन भी सम्पादित किये

भोपाल के शायर. ‘गुमनाम गोशे’ और ‘भोपाल में ग़ज़ल’ नाम से दो काव्य संचयन भी सम्पादित किये

ग़ज़ल 3

 

शेर 1

इंक़लाब-ए-नौ के उजाले कहाँ है तू

सड़कों पे मेरे शहर की कब तक धुआँ रहे

  • शेयर कीजिए
 

ई-पुस्तक 2

Bhopal Mein Ghazal

 

 

Kharam-e-Harf

 

1991

 

"भोपाल" के और शायर

  • बशीर बद्र बशीर बद्र
  • इमदाद अली बहर इमदाद अली बहर
  • जमीला ख़ुदा बख़्श जमीला ख़ुदा बख़्श
  • नसीम देहलवी नसीम देहलवी
  • सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम सय्यद यूसुफ़ अली खाँ नाज़िम
  • ज़ाकिर ख़ान ज़ाकिर ज़ाकिर ख़ान ज़ाकिर
  • रशीद लखनवी रशीद लखनवी
  • सिराज फ़ैसल ख़ान सिराज फ़ैसल ख़ान
  • हकीम आग़ा जान ऐश हकीम आग़ा जान ऐश
  • राहत हसन राहत हसन