Abdul Majeed Salik's Photo'

अब्दुल मजीद सालिक

1894 - 1959 | लाहौर, पाकिस्तान

मशहूर शायर और पत्रकार, अपने समय के लोकप्रिय समाचारपत्र ‘ज़मींदार’ के सम्पादक रहे. ‘ज़िक्र-ए-इक़बाल’ और ‘मुस्लिम सहाफ़त हिंदुस्तान में’ जैसी किताबें यादगार छोड़ीं

मशहूर शायर और पत्रकार, अपने समय के लोकप्रिय समाचारपत्र ‘ज़मींदार’ के सम्पादक रहे. ‘ज़िक्र-ए-इक़बाल’ और ‘मुस्लिम सहाफ़त हिंदुस्तान में’ जैसी किताबें यादगार छोड़ीं

शेर 9

जो उन्हें वफ़ा की सूझी तो ज़ीस्त ने वफ़ा की

अभी के वो बैठे कि हम उठ गए जहाँ से

तुझे कुछ इश्क़ उल्फ़त के सिवा भी याद है दिल

सुनाए जा रहा है एक ही अफ़्साना बरसों से

इश्क़ है बे-गुदाज़ क्यूँ हुस्न है बे-नियाज़ क्यूँ

मेरी वफ़ा कहाँ गई उन की जफ़ा को क्या हुआ

  • शेयर कीजिए

हाल-ए-दिल सुन के वो आज़ुर्दा हैं शायद उन को

इस हिकायत पे शिकायत का गुमाँ गुज़रा है

  • शेयर कीजिए

चराग़-ए-ज़िंदगी होगा फ़रोज़ाँ हम नहीं होंगे

चमन में आएगी फ़स्ल-ए-बहाराँ हम नहीं होंगे

ग़ज़ल 8

क़िस्सा 9

पुस्तकें 12

105 Bade Aadmi

 

1971

Ameen-o-Mamoon

 

 

Hayat-e-Mushrika

Toofan-e-Hayat

1923

Ijadat

 

1930

KHudkushi Ki Anjuman

 

1938

Miras-e-Islam

 

1960

Muslim Saqafat Hindustan Mein

 

9157

Naya Chand

 

1926

Sarguzisht

 

1993

Sarguzisht

 

1955

संबंधित लेखक

  • फ़िराक़ गोरखपुरी फ़िराक़ गोरखपुरी समकालीन

"लाहौर" के और लेखक

  • सआदत हसन मंटो सआदत हसन मंटो
  • इन्तिज़ार हुसैन इन्तिज़ार हुसैन
  • मोहम्मद यूनुस बट मोहम्मद यूनुस बट
  • नईम बेग नईम बेग
  • राबिया अलरबा राबिया अलरबा
  • ज़फ़र अली ख़ाँ ज़फ़र अली ख़ाँ
  • तसनीम मिंटो तसनीम मिंटो
  • नीलम अहमद बशीर नीलम अहमद बशीर
  • अनीस नागी अनीस नागी
  • बिलाल हसन मिंटो बिलाल हसन मिंटो