Hajra Masroor's Photo'

हाजरा मसरूर

1930 - 2012 | कराची, पाकिस्तान

पाकिस्तान की लोकप्रिय नारीवादी लेखिका, आजीवन पुरूष प्रधान समाज को घेरने वाली कहानियां लिखती रहीं.

पाकिस्तान की लोकप्रिय नारीवादी लेखिका, आजीवन पुरूष प्रधान समाज को घेरने वाली कहानियां लिखती रहीं.

कहानी 15

उद्धरण 3

इरादे की नाकामी इन्सान को बुज़्दिल बना देती है और बुज़्दिल ही दुनिया से ख़ौफ़ खाता है।

  • शेयर कीजिए

औरत एक कठ-पुतली है जिसकी डोर समाज के कोढ़ी हाथों में है और उन कोढ़ी हाथों में जब चुल होने लगती है तो डोर के झटकों से ये कठ-पुत्ली नचाई जाती है।

  • शेयर कीजिए

ज़ाती मिल्कियत का जुनून इन्सानियत को तबाही के ग़ार में धकेल कर रहेगा।

  • शेयर कीजिए
 

पुस्तकें 2

सब अफ़्साने मेरे

 

1991

Zehne Jadid

Shumara Number-064

2013

 

"कराची" के और लेखक

  • मुश्ताक़ अहमद यूसुफ़ी मुश्ताक़ अहमद यूसुफ़ी
  • मोहम्मद अमीनुद्दीन मोहम्मद अमीनुद्दीन
  • मुमताज़ हुसैन मुमताज़ हुसैन
  • मर्यम तस्लीम कियानी मर्यम तस्लीम कियानी
  • अख़लाक़ अहमद अख़लाक़ अहमद
  • रज़ा अली आबिदी रज़ा अली आबिदी
  • आमिर सिद्दीक़ी आमिर सिद्दीक़ी
  • अहमद अली अहमद अली
  • शाहीन काज़मी शाहीन काज़मी
  • अहमद हमेश अहमद हमेश