Shafiqur Rahman's Photo'

शफ़ीक़ुर्रहमान

1920 - 2000 | रावलपिंडी, पाकिस्तान

प्रमुख पाकिस्तानी हास्य-व्यंगकार और कहानीकार, अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं.

प्रमुख पाकिस्तानी हास्य-व्यंगकार और कहानीकार, अपनी विशेष शैली के लिए जाने जाते हैं.

कहानी 1

 

उद्धरण 8

दर-अस्ल शादी एक लफ़्ज़ नहीं पूरा फ़िक़्रा है।

  • शेयर कीजिए

लड़ाई और इम्तिहान के नतीजे का कुछ पता नहीं होता।

  • शेयर कीजिए

जानते हो औ'रत की उ'म्र के छः हिस्से होते हैं। बच्ची, लड़की, नौ-उ'म्र ख़ातून, फिर नौ-उ'म्र ख़ातून, फिर नौ-उ'म्र ख़ातून,‏ फिर नौ-उ'म्र ख़ातून।

  • शेयर कीजिए

मेरा ज़ाती नज़रिया तो यही है कि एक तंदुरुस्त इंसान को मोहब्बत कभी नहीं करनी चाहिए। आख़िर कोई तुक भी है इस‏में? ख़्वाह-मख़्वाह किसी के मुतअ'ल्लिक़ सोचते रहो, ख़्वाह वो तुम्हें जानता ही हो। भला किस फार्मूले से साबित होता है ‏कि जिसे तुम चाहो वो भी तुम्हें चाहे। मियाँ ये सब मन-गढ़त क़िस्से हैं। अगर जान-बूझ कर ख़ब्ती बनना चाहते‏ हो तो बिस्मिल्लाह किए जाओ मुहब्बत। हमारी राय तो यही है कि सब्र कर लो।

  • शेयर कीजिए

अ'जीब सी बात है कि लोग मोटे ताज़े आदमियों को मुहब्बत से मुस्तस्ना क़रार देते हैं। वो ये तसव्वुर में ला ही नहीं‏ सकते कि एक इंसान जिसका वज़्न अढ़ाई मन से ज़ियादा हो जिसकी दो ठोड़ियाँ हों, जिसकी तोंद तुलूअ' हो रही हो,‏ उसके दिल में भी मुहब्बत का जज़्बा समा सकता है। उ'मूमन यही सोचा जाता है कि इस साइज़ और इस नंबर के आदमी‏ हमेशा खाने पीने की चीज़ों के मुतअल्लिक़ सोचते रहते हैं। चुनाँचे एक फ़र्बा ख़ातून को सुरीली आवाज़ में दर्दनाक गाना‏ गाते देखकर बजाए रोने के हँसी आती है और दिल में यही ख़याल आता है कि अब ये गाना गा कर फ़ौरन एक भारी सा नाश्ता ‏तनावुल फ़रमाएँगी और चंद डकारें लेने के बाद मज़े से सो जाएँगी। उठेंगी तो फिर खाएँगी।

  • शेयर कीजिए

तंज़-ओ-मज़ाह 14

पुस्तकें 27

Be-Gunah Mujrim

 

 

Dajla

 

1980

Dareeche

 

1989

Dr Shafiqur Rahman

Ek Mutala

1997

Himaqatein

 

1983

Himaqatein

 

1970

Hindustan Ke Zarai Masail

 

 

Insani Tamasha

 

1982

इंसानी तमाशा

 

2001

Jang Aur Ghiza Ka Masla

 

1944

संबंधित लेखक

  • मुश्ताक़ अहमद यूसुफ़ी मुश्ताक़ अहमद यूसुफ़ी समकालीन

"रावलपिंडी" के और लेखक

  • रशीद अमजद रशीद अमजद
  • आसिम बख़्शी आसिम बख़्शी
  • ख़ाक़ान साजिद ख़ाक़ान साजिद
  • सीमीं दुर्रानी सीमीं दुर्रानी
  • रफ़ीक़ ख़ावर रफ़ीक़ ख़ावर