गुजरांवाला के शायर और अदीब

कुल: 46

मंटो के समकालिक, प्रगतिशील आंदोलन से सम्बद्ध प्रसिद्ध अफ़साना निगार, रूमानी और यथार्थवादी कहानियां लिखने के लिए मशहूर.

लोकप्रिय शायर, ज़िंदगी और मोहब्बत से संबंधित रुमानी शायरी के लिए विख्यात।

अपने अपारम्परिक विचारों के लिए मशहूर पाकिस्तानी शायरा। कम उम्र में आत्महत्या की।

पंजाबी की लोकप्रिय कवयित्री-लेखिका। भारतीय ज्ञानपीठ से सम्मानित।

पाकिस्तान के युवा शायर

प्रसिद्ध प्रगतिवादी कथाकार

हास्य-व्यंग के चर्चित शायर। महत्वपूर्ण फ़िल्म गीतकार , फ़िल्म ' मेरा साया ' के गीत ' झुमका गिरा रे ' के लिए प्रसिध्द

महत्वपूर्ण पाकिस्तानी कथाकार और शायर, उर्दू-पंजाबी में लेखन के लिए प्रसिद्ध।