Alqama Shibli's Photo'

अलक़मा शिबली

1930 - 2019 | कोलकाता, भारत

कलकत्ता के प्रसिद्ध शायर. ग़ज़ल, नज़्म और रुबाई जैसी विधाओं में रचनाएं की. बच्चों के लिए लिखी नज़्मों के कई संग्रह प्रकाशित हुए. कई साहित्यिक पत्रिकाओं के संपादक रहे

कलकत्ता के प्रसिद्ध शायर. ग़ज़ल, नज़्म और रुबाई जैसी विधाओं में रचनाएं की. बच्चों के लिए लिखी नज़्मों के कई संग्रह प्रकाशित हुए. कई साहित्यिक पत्रिकाओं के संपादक रहे

ग़ज़ल 12

नज़्म 4

 

शेर 4

गुम रहोगे कब तक अपनी ज़ात ही में

ज़िंदगी से भी कभी आँखें मिलाओ

  • शेयर कीजिए

ये क्या कि फ़क़त अपनी ही तस्वीर बनाओ

नक़्श-गरो वुसअत-ए-फ़न कुछ तो दिखाओ

  • शेयर कीजिए

क्यूँ लग़्ज़िश-ए-पा मेरी मलामत का हदफ़ है

जीने का सलीक़ा मुझे बख़्शा है इसी ने

  • शेयर कीजिए

क़ितआ 1

 

रुबाई 9

पुस्तकें 10

Alqama Shibli: Khwabon Ka Sooratgar

 

2003

Be Chehra Lamhe

 

1975

बे चेहरा लम्हे

 

1975

Bostan Ki Kahaniyan

 

1985

Dayar-e-Haram Mein

 

1998

IntiKHab-e-Farsi

 

1959

Khwab Khwab Zindagi

 

1990

Lala-e-Sahra

 

2003

शहर नामा

 

2008

Zaad-e-Safar

 

1990

 

"कोलकाता" के और शायर

  • एज़ाज़ अफ़ज़ल एज़ाज़ अफ़ज़ल
  • सालिक लखनवी सालिक लखनवी
  • अब्बास अली ख़ान बेखुद अब्बास अली ख़ान बेखुद
  • शहनाज़ नबी शहनाज़ नबी
  • हुरमतुल इकराम हुरमतुल इकराम
  • यूसुफ़ तक़ी यूसुफ़ तक़ी