Jamal Owaisi's Photo'

जमाल ओवैसी

1962 | दरभंगा, भारत

प्रमुख उत्तर-आधुनिक शायर

प्रमुख उत्तर-आधुनिक शायर

ग़ज़ल 16

शेर 4

गुरेज़-पा है नया रास्ता किधर जाएँ

चलो कि लौट के हम अपने अपने घर जाएँ

मौत बर-हक़ है एक दिन लेकिन

नींद रातों को ख़ूब आती है

  • शेयर कीजिए

जो माँग रहे हो वो मिरे बस में नहीं है

दरख़्वास्त तुम्हारी है ज़रूरत से ज़ियादा

रुबाई 4

 

ई-पुस्तक 7

अबाबील

 

1986

अना पज़ीर

 

2013

मज़हर इमाम : नए मंज़र नामे में

 

2002

नज़्म नज़्म

 

2002

ओवैस अहमद दौराँ: एक बाज़दीद

 

2015

रुका हुअा सैल

 

2002

शोर के दरमियाँ

 

2006

 

संबंधित शायर

  • शारिक़ कैफ़ी शारिक़ कैफ़ी समकालीन
  • ख़्वाजा जावेद अख़्तर ख़्वाजा जावेद अख़्तर समकालीन
  • ओवेस अहमद दौराँ ओवेस अहमद दौराँ पिता

"दरभंगा" के और शायर

  • मंसूर ख़ुशतर मंसूर ख़ुशतर
  • मोहम्मद हसन मोहसिन मोहम्मद हसन मोहसिन
  • अब्दुल मन्नान तरज़ी अब्दुल मन्नान तरज़ी
 

Added to your favorites

Removed from your favorites